27 घंटे बाद सामने आए चिदंबरम सीबीआई ने हिरासत में लिया

नई दिल्ली: आईएनएक्स मीडिया मामले में कांग्रेस नेता पी चिदंबरम 27 घंटे बाद बुधवार रात सामने आए। कांग्रेस मुख्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंसकर उन्होंने खुद को निर्दोष बताया। इस के बाद वह दिल्ली के जोराबाग स्थित अपने घर पहुंचे इसके बाद सीबीआई की टीम भी उनके घर पहुंच गई। मेन गेट न खुलने पर सीबीआई अफसर दीवार फांदकर उनके घर में घुसे। उन्हें हिरासत में ले लिया और पूछताछ के लिए सीबीआई मुख्यालय ले गए। इस दौरान उनके समर्थक भी वहां पहुंच गए। इससे पहले चिदंबरम ने कांग्रेस मुख्यालय में कपिल सिब्बल सहित पार्टी के नौ बड़े नेताओं के साथ प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि मेरे और परिवार के खिलाफ कोई चार्जशीट नहीं है। मुझे लोकतंत्र पर पूरा भरोसा है। उधर, सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले के खिलाफ दायर चिदंबरम की याचिका पर तुरंत सुनवाई की मांग दूसरी बार ठुकरा दी। इस मामले में अब शुक्रवार को सुनवाई होगी। वहीं, ईडी ने उनके खिलाफ लुक आउट नोटिस भी जारी किया है। आईएनएक्स मीडिया को 305 करोड़ की विदेशी फंडिंग लेने के लिए फॉरेन इन्वेस्टमेंट प्रमोशन बोर्ड की मंजूरी में अनियमितताओं के आरोप हैं। सीबीआई की दलील रही है कि चिदंबरम पूछताछ में सहयोग नहीं कर रहे हैं और सवालों के गोलमोल जवाब देते रहे है. अब सीबीआई ने चिदंबरम से पूछने के लिए सवाल तैयार किए है. इसके साथ ही सीबीआई ने चिदंबरम द्वारा पहले दिए गए जवाबों को काउंटर करने के लिए कई सारे डॉक्यूमेंट्री एविडेंस जुटाए हुए है. ऐसा भी माना जा रहा है कि चिदंबरम अदालत में जमानत के लिए याचिका दायर कर सकते हैं. वहीं, उनके बेटे कार्ति चिदंबरम ने अपने पिता की गिरफ्तारी को लेकर कहा कि अनुच्‍छेद 370 के मुद्दे से ध्‍यान भटकाने के इरादे से की गई है. इससे पहले उन्‍होंने कहा था कि उनके पिता को जिस नाटकीय ढंग से गिरफ्तार किया गया, वह सिर्फ राजनीतिक बदले की भावना से प्रेरित है. कार्ति चिदंबरम ने कहा कि कथित कृत्य 2008 में हुआ और उसमें अब तक कोई आरोप नहीं है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

About admin