सुषमा की दो टूक- मसूद अजहर को भारत को सौंपे पाकिस्तान, फिर होगी बातचीत

जब तक पाकिस्तान आतंकवाद के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं करता है, तब तक उनके साथ कोई बातचीत नहीं हो सकती है। यह बात विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने पड़ोसी देश पर निशाना साधते हुए एक कार्यक्रम के दौरान कही। सुषमा ने कहा कि आतंक और बातचीत साथ-साथ नहीं चल सकते हैं। अगर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान इतने ही उदार हैं तो मसूद अजहर को भारत को क्यों नहीं सौंपते। पुलवामा हमले के बाद हमने कई देशों को अवगत करा दिया कि हम पाकिस्तान के साथ हालात को बिगडऩे नहीं देंगे, लेकिन उस देश से कोई भी हमला हुआ तो चुप नहीं रहेंगे। यह बात विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने पड़ोसी देश पर निशाना साधते एक कार्यक्रम के दौरान कही।उन्होंने कहा, अगर इमरान खान (पाकिस्तानी प्रधानमंत्री) इतने उदार हैं और राजनय हैं, उन्हें हमें मसूद अजहर सौंप देना चाहिए.” विदेश मंत्री ने कहा कि भारत के पाकिस्तान से अच्छे रिश्ते हो सकते हैं बशर्ते पड़ोसी देश “अपनी जमीन पर आतंकी समूहों के खिलाफ कार्रवाई करे.विदेश मंत्री से भारत द्वारा पीओके के बालाकोट में की गई एयर स्ट्राइक के बाद पाकिस्तान के पलटवार के बारे में भी सवाल पूछा गया, इस पर सुषमा ने कहा, जैश की तरफ से पाकिस्तानी सेना ने हम पर हमला क्यों किया? आप न सिर्फ जैश को अपनी जमीन पर पाल रहे हैं बल्कि उन्हें वित्त पोषित कर रहे हैं और जब पीड़ित देश प्रतिरोध करता है तो आप आतंकी संगठन की तरफ से उस पर हमला करते हैं.सुषमा ने कहा कि “आतंक और बातचीत साथ-साथ नहीं चल सकते. हम आतंकवाद पर बात नहीं चाहते, हम उस पर कार्रवाई चाहते हैं.विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने बुधवार को कहा कि पुलवामा हमले के बाद उन्होंने कई देशों को अवगत करा दिया कि भारत, पाकिस्तान के साथ हालात को बिगड़ने नहीं देगा लेकिन उस देश से कोई भी हमला हुआ तो वह चुप नहीं रहेगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

About admin