रेलवे के कार्य प्रदर्शन और दक्षता को बेहतर बनाने के लिए ‘परिवर्तन संगोष्ठी ’ का आयोजन


नई दिल्ली : सुधार और कार्य प्रदर्शन को ध्‍यान में रखते हुए भारतीय रेल नई दिल्‍ली में  दो दिवसीय परिवर्तन संगोष्‍ठी का आयोजन कर रहा है। संगोष्‍ठी का उद्देश्‍य भारतीय रेल में अगले स्‍तर के सुधार के लिए विभिन्‍न मण्‍डल कार्यालयों से प्राप्‍त सुझावों पर विचार-विमर्श करना है। इस अवसर पर रेल तथा वाणिज्‍य एवं उद्योग मंत्री पीयूष गोयल, रेल राज्‍य मंत्री श्री सुरेश सी. अंगड़ी, रेलवे बोर्ड के चेयरमैन श्री विनोद कुमार यादव, बोर्ड के सभी सदस्‍य, रेलवे बोर्ड के अतिरिक्‍त सदस्‍य, बोर्ड के प्रधान कार्यकारी निदेशक, सभी महाप्रबंधक, महानिदेशक तथा मण्‍डल रेलवे के डीआरएम उपस्थित थे।  इस अवसर पर पीयूष गोयल ने 5500 स्‍टेशनों पर वाईफाई सुविधा स्‍थापित करने के लिए भारतीय रेल प्रशासन की सराहना की। उन्‍होंने कहा कि यह एक महत्‍वपूर्ण उपलब्धि है और इससे देश के हजारों लोग लाभांवित होंगे। 167 वर्षों की यात्रा में भारतीय रेल में महत्‍वपूर्ण परिवर्तन हुए हैं और इसे रेलवे की कार्य प्रणाली में महसूस किया जा सकता है।परिवर्तन संगोष्‍ठी के लिए दिये गये सुझावों के बारे में गोयल ने कहा कि रेल कर्मियों के आत्‍म-सम्‍मान, इच्‍छा-शक्ति और क्षमता निश्चित रूप से रेलवे को विकास व सुधार के अगले दौर में ले जायेगी और आधुनिकीकरण में गति आयेगी। युवा अधिकारियों द्वारा दिये गये सुझावों पर गंभीरता से विचार किया जाना चाहिए। इनके आधार पर रेलवे प्रणाली को बेहतर बनाया जाना चाहिए, ताकि भारतीय रेल विश्‍व स्‍तरीय और अत्‍याधुनिक हो सके।रेल राज्‍य मंत्री सुरेश सी. हंगड़ी ने कहा कि नये विचारों पर विचार-विमर्श एक उपयोगी पहल है। ये विचार भारतीय रेल को अगले दौर के सुधारों की ओर ले जायेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

About admin