मुख्यमंत्री युवा स्वाभिमान योजना का शुभारंभ


नौजवानों को रोजगार देने के सुनिश्चित प्रयास होंगे

 

भोपाल : युवा स्वाभिमान योजना का शुभारंभ करते हुए प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने कहा कि प्रदेश के बेहतर भविष्य के लिये हम विकास का एक नया नक्शा तैयार कर रहें है  हमारे सामने सबसे बड़ी चुनौती नौजवानों को रोजगार देने की है। आज का नौजवान संचार संसाधनों से लैस है। उसे कोई ठेका नहीं चाहिए। कमीशन नहीं चाहिए। उसे रोजगार चाहिए। अगर हमारा नौजवान निराश रहा, उसके जीवन में भटकाव रहा, तो हम अपने प्रदेश के बेहतर भविष्य का निर्माण नहीं कर पायेंगे। इसके लिये हम प्रदेश में निवेश की व्यापक संभावनाओं को तलाश रहे हैं। अधिक से अधिक उद्योगों की स्थापना से हम अपने नौजवान को काम दे पायेंगे। युवा स्वाभिमान योजना इस दिशा में हमारा प्रयास है। हम नौजवानों को 100 दिन में चार हजार रूपये प्रतिमाह उपलब्ध करायेंगे। साथ ही उन्हें प्रशिक्षण भी देंगे, जिससे वे आत्म-निर्भर बन सकें।

 श्री नाथ मोतीलाल नेहरू स्टेडियम में मुख्यमंत्री युवा स्वाभिमान योजना में युवा हितग्राहियों को 100 दिन रोजगार के प्रमाण-पत्र वितरित किये । श्री कमल नाथ ने कहा कि नई सरकार ने अपने वचन-पत्र को पूरा करने के लिये सुनियोजित प्रयास शुरू कर दिये हैं। कर्ज माफी के बाद बेरोजगार नौजवानों को काम देने के लिये हम आज से “युवा स्वाभिमान योजना” प्रारंभ कर रहे हैं। सरकार ने पेंशन 300 से बढ़ाकर 600 रूपये कर दी है। हम प्रदेश के नागरिकों को विश्वास दिलाते हैं कि जो वचन-पत्र हमारी सरकार का है, उसे अगले पाँच साल में पूरा करेंगे। उन्हें निराश नहीं होने देंगे।मुख्यमंत्री ने कहा कि हम नारे लगाकर, पोस्टर, होर्डिंग की राजनीति पर विश्वास नहीं करते। हम कोई मेक इन इंडिया, स्टेण्ड अप इंडिया, डिजीटल इंडिया का दावा नहीं करते। इस दिशा में हम वास्तविक काम करके दिखायेंगे।वंही नगरीय विकास एवं आवास मंत्री श्री जयवर्धन सिंह ने कहा कि बेरोजगारों को सक्षम बनाने के साथ ही उन्हें 100 दिन में आर्थिक सहयोग करने की देश की पहली मुख्यमंत्री युवा स्वाभिमान योजना मील का पत्थर बनेगी। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री कमल नाथ की यह सोच है कि प्रदेश के युवा आत्म-निर्भर बनें। योजना में 21 से 30 वर्ष आयु वर्ग के युवक-युवतियों को लाभान्वित किया जायेगा। उन्हें प्रशिक्षित किया जायेगा। यही नहीं, हम प्रशिक्षित बेरोजगारों को रोजगार उपलब्ध कराने के लिये औद्योगिक कम्पनियों को बुलायेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

About admin