राजभवन में 18 नवम्बर को होगा “भारत भाग्य विधाता नाटक का मंचन


भोपाल: राजभवन में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150 वीं जयन्ती के अवसर पर गाँधी जी के व्यक्तित्व और कृतित्व पर केन्द्रित विशेष नाटक ‘भारत भाग्य विधाता” का 18 नवम्बर को मंचन किया जा रहा है। यह नाटक श्रीमद् राजचंद्र मिशन, धरमपुर की प्रस्तुति है। नाटक में लगभग 70 कलाकारों के माध्यम से गाँधी जी के बचपन, युवावस्था और प्रौढ़ावस्था में उनके विचारों और कार्यों का प्रस्तुतिकरण किया जायेगा।नाटक ‘भारत भाग्य विधाता” के सूत्रधार धर्मेश मेहता ने बताया कि श्रीमद् राजचंद्र जैन महात्मा गांधी के आध्यात्मिक गुरू थे। उन्हीं की प्रेरणा से गांधी जी के मन में अहिंसा के मार्ग पर चलने का बीज रोपित हुआ था। उन्होंने बताया कि अब तक देश भर में इस नाटक के 80 प्रदर्शन हो चुके हैं। संगीत नाटक अकादमी नई दिल्ली के सहयोग से प्रदर्शित इस नाटक के लेखक प्रकाश कापड़िया एवं दिग्दर्शक राजेश जोशी हैं। नाटक में गांधी के युवा रूप में चिराग और प्रौढ़रूप में पुलकित सोलंकी अभिनय करेंगे। मोहन से महात्मा बनने की अद्भुत यात्रा की राजभवन में प्रस्तुति से गांधीजी के जीवन मूल्यों और सिद्धांतों को आत्मसात कर जीवन में अपनाने की प्रेरणा मिलेगी।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

About admin