मानव सेवा, प्रेम और शांति का संदेश देता है ईसाई समाज : मुख्यमंत्री नाथ


भोपाल: मुख्यमंत्री कमल नाथ ने कहा कि ईसाई समाज मानव-सेवा के साथ भाई-चारे, प्रेम और शांति का संदेश देता है जिसकी आज पूरी दुनिया को सबसे अधिक आवश्यकता है। नाथ आज मुख्यमंत्री निवास पर आयोजित क्रिसमस के पूर्व कैरोल सिंगिंग कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे।  मुख्यमंत्री कमल नाथ ने कहा कि क्रिसमस एक ऐसा त्यौहार है जो विश्व के लगभग सभी देशों में मनाया जाता है क्योंकि यह लोगों को आपस में प्यार से मिल-जुल कर शांति के साथ मानव सेवा का संदेश देता है। हम सभी लोग इस मार्ग पर चलें तो दुनिया को अशांति से हमेशा के लिए मुक्त किया जा सकता है। नाथ ने कहा कि आज कैरोल सिंगिंग कार्यक्रम में शामिल होते हुए मुझे अपने स्कूल के दिनों की याद आ गई। जब स्कूल में पढ़ते थे, तब हम चर्च भी जाते थे और कैरोल सिंगिंग कार्यक्रम में भाग लेते थे। मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम में सम्मिलित सभी बच्चों और फादर्स तथा सिस्टर्स को क्रिसमस की हार्दिक बधाई और शुभकामनाएँ दीं।क्रिसमस के पूर्व ईसाई समाज द्वारा प्रभु यीशु के जन्म का शुभ समाचार घर-घर जाकर शुभ-संदेश के रूप में दिया जाता है। इसी उद्देश्य से कैरोल सिंगिंग कार्यक्रम किए जाते हैं। सभी लोगों को प्रभु यीशु के मार्ग पर चलते हुए भाई-चारे, प्रेम और शांति के रास्ते पर चलने की प्रेरणा दी जाती है। स्कूली बच्चों ने कैरोल सिंगिंग प्रस्तुत किया और मुख्यमंत्री को क्रिसमस की शुभकामनाएँ दीं। इस मौके पर बाईबिल के मुख्य अंश पढ़कर सुनाए गए। मुख्यमंत्री ने सभी बच्चों को उपहार भेंट किए। मुख्यमंत्री को भी सांता क्लॉज़ ने उपहार दिया।कार्यक्रम में सुश्री शोभा ओझा थामस, पीआरओ फादर मारिया स्टिफन, फादर साज़ी, फादर एलेक्जेंडर, फादर सुंदर राज, सिस्टर ओलिफ, सिस्टर मैरी उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री कमल नाथ ने दी क्रिसमस पर्व की बधाई:मुख्यमंत्री कमल नाथ ने मसीह समुदाय सहित सभी प्रदेशवासियों को क्रिसमस की बधाई और शुभकामनाएँ दी हैं।  कमल नाथ ने शुभकामना संदेश में कहा कि प्रभु यीशु द्वारा दिखाए मार्ग पर चलकर मसीह समाज ने मानव सेवा का जो उदाहरण पेश किया, वह सभी समाज के लिए अनुकरणीय है।मुख्यमंत्री ने कहा कि शांति, सद्भाव और भाईचारे की भावना को मजबूत बनाने में मसीह समाज का महत्वपूर्ण योगदान है। उन्होने कहा कि आज पूरी दुनिया में शांति बनाए रखने के लिए प्रभु ईसा मसीह के रास्ते पर चलने की जरुरत है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

About admin