मध्यप्रदेश को मदिरा प्रदेश बना रही कमलनाथ सरकार नहीं बनने देंगे : शिवराज सिंह चौहान

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा-फैसला वापस ले सरकारवर्ना सड़कों पर संघर्ष करेगी भाजपा 

                भोपाल। कमलनाथ सरकार रेवेन्यू बढ़ाने के नाम पर प्रदेश में अहाते, शॉप बार खोल रही है। इससे फायदा कुछ नहीं है, अपराधों में ही वृद्धि होगी। दुष्कर्म जैसे अपराध नशे में ही होते हैं। मेरा सरकार से आग्रह है कि वह मध्यप्रदेश को मदिरा प्रदेश न बनाए, अन्यथा भारतीय जनता पार्टी सड़कों पर उतरकर इसका विरोध करेगी। यह बात शुक्रवार को भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने अपने निवास पर मीडिया से चर्चा करते हुए कही।    पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि कमलनाथ सरकार ने अहाता और शॉप बार बढ़ाने का जो फैसला लिया है, वह विनाशकारी फैसला है। उन्होंने कहा कि सरकार की कोशिश यह होनी चाहिए कि हर साल शराब की दुकानें कम की जाएं। हमारी सरकार ने प्रदेश में शराब की दुकानें बढ़ने नहीं दी थीं और उन्हें धीरे-धीरे कम करने का प्रस्ताव था। लेकिन यह सरकार कह रही है कि हर शराब दुकान के साथ अहाता, शॉप बार हो। दुख की बात यह है कि प्रदेश सरकार यह फैसला ऐसे समय में ले रही है, जब हम महात्मा गांधी का जन्म शताब्दी वर्ष मना रहे हैं। उन्होंने कहा कि मैं मध्यप्रदेश के स्थापना दिवस पर सरकार से मांग करता हूं कि वह अपना फैसला वापस ले।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

About admin