मंत्री बघेल और सिलावट ने किया शुभारंभ


भोपाल: नर्मदा घाटी विकास मंत्री सुरेन्द्र सिंह बघेल और स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री तुलसीराम सिलावट ने इंदौर में सांवेर के ग्राम पाल कांकरिया में बड़ी संख्या में किसानों की मौजूदगी में बटन दबाकर नर्मदा-मालवा गंभीर लिंक सिंचाई एवं पेयजल परियोजना का शुभारंभ किया। परियोजना से सांवेर क्षेत्र के 43 गांवों को सिंचाई एवं पेयजल सुविधा मिलेगी। नर्मदा घाटी विकास मंत्री श्री सुरेन्द्र सिंह बघेल ने सांवेर क्षेत्र के किसानों और ग्रामीणों को इस परियोजना के लिये बधाई दी। उन्होंने बताया कि नर्मदा विकास प्राधिकरण की पहली बैठक में ही सांवेर क्षेत्र में नर्मदा जल लाने की मांग उठाई गई थी। मुख्यमंत्री कमल नाथ द्वारा किसानों के हित में  सह्दयता से निर्णय लिया गया। मंत्री सिलावट की पहल पर सांवेर उद्वहन सिंचाई योजना बनाई जा रही है। इसकी लागत 2400 करोड़ रूपये होगी और इससे क्षेत्र के 182 गांव लाभान्वित होंगे। परियोजना से लगभग 80 हजार  हेक्टयर में सिंचाई होगी। मंत्री श्री बघेल ने नगर पंचायत सांवेर के लिये 2.5 एम.एल.डी. पानी का प्रावधान पेयजल के लिये करने का भी ऐलान किया।स्वास्थ्य मंत्री सिलावट ने कहा कि वर्ष 1985 में लिया गया उनका संकल्प “नर्मदा मईया  सांवेर चलो” आज पूरा हुआ है। परियोजना से किसानों को निरंतर सिंचाई का जल मिलेगा। इस परियोजना से गांवों में पीने के पानी का भी इंतजाम किया जायेगा। पंद्रह-पंद्रह गांवों के तीन क्लस्टर बनाकर घर-घर में पेयजल उपलब्ध कराया जायेगा। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

About admin