पुलिस ने ग्रामीणों से किया सीधा संवाद

भोपाल: पुलिस और जनता के बीच सकारात्मक समझ विकसित करने के उद्देश्य से आज रायसेन जिले के अनुसूचित-जाति बहुल ग्राम गुलगाँव के निवासियों से पुलिस अधिकारियों ने सीधा संवाद स्थापित किया गया। अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक अजाक श्रीमती प्रज्ञा ऋचा श्रीवास्तव के निर्देशन में साँची में ‘अनुसूचित-जाति और अनुसूचित-जनजाति वर्गों के प्रति संवेदनशीलता” पर दो दिवसीय राज्य-स्तरीय सेमीनार के दूसरे दिन गुलगाँव में ग्रामवासियों से संवाद कर उनके लिये चलाई जा रही योजनाओं की जानकारी दी गई।श्रीमती श्रीवास्तव ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ की मंशानुसार कार्यक्रम का गुलगाँव में आयोजन किया गया है। मकसद यह है कि योजनाओं से मिलने वाले तमाम लाभ संबंधित व्यक्तियों तक पहुँचें। उन्होंने कहा कि आमतौर पर घटना-दुर्घटना या कोई भी समस्या होने पर जन-सामान्य पुलिस को ही अवगत करवाते हैं और पुलिस भी उनकी हरसंभव मदद करने का प्रयास करती है। उन्होंने बताया कि अजा-अजजा वर्ग की सुविधा के लिये अजाक थाने भी बनाये गये हैं। महिलाओं पर हुए अपराध के लिये पुलिस थाने में महिला डेस्क स्थापित है, जहाँ महिलाएँ खुलकर अपनी बात महिला अधिकारी के साथ कर सकती हैं। उन्होंने कहा कि एफआईआर की प्रति पाना आपका अधिकार है।श्रीमती श्रीवास्तव ने ग्रामीणों से उन्हीं की बोली में संवाद किया। उन्होंने प्रोत्साहन स्वरूप गाँव की उप सरपंच गुलाबबाई को मंच पर स्थान दिया और कार्यक्रम को संबोधित करने का आग्रह भी किया। श्रीमती श्रीवास्तव ने जागरूकता के साथ पढ़ाई पर भी विशेष ध्यान देने को कहा। श्रीमती श्रीवास्तव ने ग्रामीणों के साथ भोजन भी किया।कार्यक्रम में डीआईजी श्री आई.पी. अरजरिया और बड़ी संख्या में ग्रामीण उपस्थित थे। अंत में जनपद सदस्य श्री रामबाबू सराठे ने आभार माना।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

About admin