एयर स्ट्राइक का सबूत मांगने पर दिग्विजय सिंह पर चौतरफा स्ट्राइक

पुलवामा में आतंकी हमले के बाद भारत द्वारा पाकिस्तान पर की गई एयर स्ट्राइक के बाद पूर्व मुख्यमंत्री  दिग्विजय सिंह के सबूत मांगने पर वे चौतरफा घिरते नजर आ रहे हैं. वहीं दिग्विजय सिंह  के बचाव में उनके बेटे जयवर्धन सिंह उतर आए हैं.मंत्री जयवर्धन सिंह ने कहा कि मैंने बयान सुना है उन्होंने कोई गलत बात नहीं की है, सिर्फ पूछा है कि देश द्वारा पाकिस्तान पर एयर अटैक से कितना डमैज हुआ है इसकी डिटेल मांगी है. यह जानकारी देश भी मांग रहा है. फिर उन्होंने कहा कि बीजेपी के पास मुद्दे नहीं बचे हैं इसके कारण बीजेपी इसे मुद्दा बना रही है.वहीं इस मामले में पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान ने तीखा हमला बोलते हुए कहा है कि दिग्विजय सिंह मोदी विरोध में इतने अंधे हो गए हैं कि वह पाकिस्तान की भाषा बोल रहे हैं यह देश के लिए कलंक है. ये लोग पीएम मोदी का विरोध करते-करते भारत माता का विरोध करने लगे हैं. दिग्विजय सिंह ने पहले एमपी को तबाह किया अब देश को तबाह कर रहे हैं. शिवराज सिंह ने आगे कहा कि उनके बयान की निंदा करता हूं सेना प्रमुख प्रेस कॉन्फ्रेंस कर चुके हैं अगर हमारे सेना के सैन्य को वो स्वीकार नहीं कर सकते तो धिक्कार है. उनके ऐसे बयान से दुनिया में देश विरोधी ताकतों को मजबूती मिलती है. वहीं एयर स्ट्राइक को चुनावी मुद्दा बनाने पर शिवराज ने कहा कि ये कोई चुनावी मुद्दा नहीं है. इसे कौन चुनावी मुद्दा बनाएगा. शक्तिशाली भारत का निर्माण प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में हो रहा जिसे सब स्वीकार करते हैं, अब इससे दूसरों को जलन होती है तो जला करें.बता दें, दिग्विजय सिंह ने विंग कमांडर अभिनंदन को छोड़े जाने पर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की तारीफ की थी और पाकिस्तान की सराहना भी की थी. साथ ही दिग्विजय सिंह ने एयर स्ट्राइक के सबूत भी मांगे थे. उन्होंने कहा कि पीएम मोदी से झूठा आज तक नहीं देखा. उन्होंने कहा कि आज के जमाने में सेटेलाइट के जरिए सब कुछ पता चल जाता है, ओसामा बिन लादेन को जब अमेरिका ने मारा था तो उन्होंने भी सबूत दिए थे. इसलिए हमें भी एयर स्ट्राइक के सबूत देना चाहिए. दिग्विजय सिंह के बयान के बाद बीजेपी महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने उनको मानसिर रूप से विक्षिप्त करार दे दिया, उन्होंने कहा कि देश की सेना से पाक पर की गई कार्रवाई का सबूत मांगने वाले दिग्विजय सिंह चुल्लूभर पानी में डूब मरना चाहिए. साथ ही उन्होंने उनकी मानसिक क्षमता पर सवाल उठाते हुए कहा कि दिग्विजय मानसिक रुप से विक्षिप्त हो गए हैं. इसलिए इस तरह के बेशर्मीपूर्ण बयान दे रहे हैं.जयवर्धन सिंह ने कैलाश विजयवर्गीय पर जवाबी हमला बोलते हुए कहा कि अगरउनके कद का नेता इस तरह की बात करता है तो उनके ही चरित्र पर प्रश्न उठता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

About admin